UKSSSC JE (ELECTRICAL) Sample Paper

  1. ज़िंक-कार्बन सेल के लिए निम्नलिखित में से कौन सा कथन सत्य है?
    Options:
    1) कार्बन इलेक्ट्रोड के विरुद्ध ज़िंक कंटेनर में विभव 1.5 V होता है।
    2) ज़िंक के ऑक्सीकरण के लिए वायु क्षेत्र (एयर स्पेस) में वायु की आवश्यकता होती है।
    3) जब सेल से धारा प्रवाहित होती है, तो कार्बन रॉड का आंशिक क्षरण होता है।
    4) विध्रुवक (डिपोलराइजर) में मुख्यत: भूरा लौह अयस्क और कार्बन पाउडर होता है।
    Correct Answer: विध्रुवक (डिपोलराइजर) में मुख्यत: भूरा लौह अयस्क और कार्बन पाउडर होता है।
  2.  एक विदयुत आवेश सतत् गति(v) से एकसमान चुंबकीय क्षेत्र B की बल की रेखाओं के समानांतर गतिशील है। आवेश द्वारा अनुभव किए जाने वाला बल कितना होगा?
    Options:
    1. eVB1
    2. e/BV2
    3. eV/B3
    4. 0
      Correct Answer: eVB
  3.  निम्नलिखित में से किस उपकरण में ऊष्मीय प्रभाव का उपयोग होता है ?
    Options:
    1) विदयुत मोटर
    2) ट्रांस्फार्मर
    3) विदयुत फरनेस
    4) जेनरेटर

    Correct Answer: विदयुत फरनेस

  4. छत के पंखों की मोटर के लिए समान्यत: उपयोग किए जाने वाला संधारित्र (कैपेसिटर) का मान 2.3 μF है । उपयोग किए जाने वाले संधारित्र (कैपेसिटर) समान्यत: ____ प्रकार का होता है।

    Options:
    1) पेपर कैपेसिटर
    2) विदयुत अपघट्य संधारित्र (इलेक्ट्रोलाइट कैपेसिटर)
    3) माइका परावैदयुत (डाइइलेक्ट्रिक) सहित समानांतर प्लेट
    4) इनमें से कोई नहीं

    Correct Answer: पेपर कैपेसिटर

  5. विदयुत आवेशों के बीच बल के लिए लगने वाला कूलम्ब का नियम, लगभग _______ के सदृश होता है।
    Options:
    1) 'न्यूटन की गति' नियम
    2) 'ऊर्जा संरक्षण' नियम
    3) 'गॉस प्रमेय'
    4) 'न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण' नियम

    Correct Answer: 'न्यूटन के गुरुत्वाकर्षण' नियम

  6. आवेशित खोखले गोले के भीतर विभव (पोटेंशियल) ____ होगा।
    Options:
    1) शून्य
    2) सतह के समान
    3) सतह से कम
    4) इनमें से कोई नहीं

    Correct Answer: सतह के समान

  7. एक 40 μF के संधारित्र (कैपेसिटर) को 500 वोल्ट्स के विभवांतर तक आवेशित किया गया। संधारित्र द्वारा अर्जित आवेश, कूलम्ब में, कितना होगा?
    Options:

    1) 2.2
    2) 2
    3) 0.22
    4) 0.02
    Correct Answer: 0.02

  8. निम्नलिखित में से किस संधारित्र (कैपेसिटर) में सबसे कम ऊर्जा संचित होगी?
    Options:
    1) 10 kV तक आवेशित 500 pF के एक संधारित्र में
    2) 5 kV तक आवेशित 1 μF के एक संधारित्र में
    3) 400 V तक आवेशित एक 40 μF के एक संधारित्र में
    4) सबमें समान ऊर्जा संचित होगी
    Correct Answer: 10 kV तक आवेशित 500 pF के एक संधारित्र में

  9. आवेशित कणों के कारण बल की रेखाएं ___________ होती हैं।
    Options:
    1) हमेशा सीधी
    2) हमेशा वक्र
    3) कभी- कभी वक्र
    4) इनमें से कोई नहीं
    Correct Answer: हमेशा वक्र

  10. एक संधारित्र (कैपेसिटर)) को समानांतर में एक धारिता (कैपेसिटेंस) और एक प्रतिरोध द्वारा प्रदर्शित किया जा सकता है। अच्छे संधारित्र के लिए, इस समानांतर प्रतिरोध का मान कितना होगा?
    Options:
    1) बहुत अधिक
    2) बहुत कम
    3) कम
    4) इनमें से कोई नहीं
    Correct Answer: बहुत अधिक

  11. लोहे में चुंबकीय संतृप्तता का क्या अर्थ है?
    Options:
    1) लोहे द्वारा चुंबकीय क्षेत्र को प्रबलीकृत करना (पारगम्यता)
    2) चुंबकन (मैग्नेटाइजेशन) वक्र का वह भाग जिसमें चुंबकीय क्षेत्र सामर्थ्य H के कारण चुंबकीय अभिवाह घनत्व (फ्लक्स डेंसिटी) B में थोड़ा सा परिवर्तन आना
    3) चुंबकन के दौरान क्षय
    4) संतृप्तता के क्षेत्र में, प्राथमिक चुंबक पूरी तरह से व्यवस्थित न होना
    Correct Answer: चुंबकन (मैग्नेटाइजेशन) वक्र का वह भाग जिसमें चुंबकीय क्षेत्र सामर्थ्य H के कारण चुंबकीय अभिवाह घनत्व (फ्लक्स डेंसिटी) B में थोड़ा सा परिवर्तन आना

  12. बाईपोलर जंक्शन ट्रांजिस्टर में, α-कट ऑफ आवृति_________बढ़ती है
    Options:
    1) बेस चौड़ाई (विड्थ) के बढ़ने के साथ
    2) कलेक्टर विड्थ के बढ़ने के साथ
    3) तापमान के बढ़ने के साथ
    4) बेस विड्थ के घटने के साथ
    Correct Answer: बेस चौड़ाई (विड्थ) के बढ़ने के साथ

  13. 10 वाट शक्ति आउटपुट देने के लिए श्रेणी A ट्रांसफार्मर कपल्ड, ट्रांजिस्टर पॉवर प्रवर्धक (एम्प्लीफायर का उपयोग किया जाता है। ट्रांजिस्टर की अधिकतम शक्ति रेटिंग कितने वॉट से कम नहीं होनी चाहिए?
    Options:
    1) 5 W
    2) 10 W
    3) 20 W
    4) 40 W
    Correct Answer: 20 W

  14. 20kHz से 100kHz रेंज में प्रचालित स्विचित अभिगम ऊर्जा आपूर्ति (स्वीचिंग मोड पॉवर सप्लाई) में मुख्य स्वीचिंग अवयव कौन होता है?
    Options:
    1) थाइरिस्टर
    2) एम.ओ.एस. एफ.ई.टी.
    3) ट्राएक
    4) यू.जे.टी.
    Correct Answer: एम.ओ.एस. एफ.ई.टी.

  15. p-n जंक्शन के पार (एक्रॉस) निर्वहन विभव में क्या परिवर्तन होता है?
    Options:
    1) मादन (डोपिंग) सांद्रता बढ़ने के साथ घटता है।
    2) बैंड गेप घटने के साथ बढ़ता है।
    3) डोपिंग सांद्रता पर निर्भर नहीं करता है।
    4) डोपिंग सांद्रता में वृद्धि के साथ बढ़ता है।
    Correct Answer: डोपिंग सांद्रता में वृद्धि के साथ बढ़ता है।

Click here to download UKSSSC JE (ELECTRICAL) Sample Paper